ऐसी अटकलें थीं कि भारतीय टीम ब्रिस्बेन नहीं जाएगी। हालांकि इस मामले में बीसीसीआई या फिर सीए का कोई आधिकारिक बयान नहीं आया था।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे और अंतिम टेस्ट के लिए ब्रिस्बेन पहुंची भारतीय क्रिकेट टीम को मंगलवार को ब्रिस्बेन होटल में चेक इन करने के बाद कुछ मूलभूत सुविधाओं से वंचित होना पड़ा। इसके बाद अब बीसीसीआई मेजबान क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) से संपर्क साधने में लग गया है। भारतीय टीम जिस होटल में रुकी है, वहां उन्हें हाउसकीपिंग सर्विस के साथ स्वीमिंग पूल के इस्तेमाल करने को भी मना कर दिया गया है। 

माना जा रहा है कि कोविड-19 ट्रांसमीशन कम्यूनिटी को रोकने के लिए ऐसा किया गया है क्योंकि ब्रिस्बेन पहले ही हॉटस्पॉट एरिया घोषित किया जा चुका है।

बीसीसीआई एक अधिकारी ने आईएएनएस से इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि भारतीय टीम मंगलवार दोपहर को ब्रिस्बेन पहुंची और फिर इसके बाद उन्हें हाउसकीपिंग, रूम सर्विस और स्वीमिंग पूल के इस्तेमाल करने को भी मना कर दिया गया।

अधिकारी ने कहा, “बीसीसीआई इस मामले में सीए के संपर्क में है। उम्मीद है कि मामले का हल निकाल लिया जाएगा।”

ऐसी अटकलें थीं कि भारतीय टीम ब्रिस्बेन नहीं जाएगी। हालांकि इस मामले में बीसीसीआई या फिर सीए का कोई आधिकारिक बयान नहीं आया था।

कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों और न्यू साउथ वेल्स के साथ सीमा पर लॉकडाउन के कारण होटल में क्वारंटीन के सख्त नियम है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-1 की बराबरी पर है और सीरीज का चौथा और अंतिम टेस्ट शुक्रवार से ब्रिस्बेन के गाबा मैदान पर खेला जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here