दुनियाभर में महामारी के दौरान सार्वजनिक परिवहन को सुरक्षित तरीके से चलाने के प्रयास हुए ताकि यात्री संक्रमण से सुरक्षित रहें। ब्राजील के 93 फीसद लोग मानते हैं कि सार्वजनिक परिवहन

नई दिल्ली, जेएनएन। दुनियाभर में फेस मास्क का इस्तेमाल तेजी से बढ़ा है। लोग अपने घर को छोड़कर सभी बंद जगहों (इंडोर) पर मास्क का इस्तेमाल करने को राजी हैं। 25 देशों में यूगव और कैंब्रिज ग्लोबलाइजेशन प्रोजेक्ट की ओर से किए गए सर्वे में यह दावा किया गया है। इस सर्वे में लोगों से पूछा गया कि सार्वजनिक परिवहन, अस्पताल (मेडिकल फैसेलिटी), बाजार, हवाईअड्डा, गली और घर में से कहां मॉस्क का इस्तेमाल सबसे ज्यादा जरूरी है। आइये जानते हैं कि इसके जवाब में लोगों ने क्या कहा है-

सार्वजनिक परिवहन में मास्क

दुनियाभर में महामारी के दौरान सार्वजनिक परिवहन को सुरक्षित तरीके से चलाने के प्रयास हुए, ताकि यात्री संक्रमण से सुरक्षित रहें। ब्राजील के 93 फीसद लोग मानते हैं कि सार्वजनिक परिवहन में फेस मास्क जरूरी है। वहीं, दक्षिण अफ्रीका, मैक्सिको और स्पेन के 92 फीसद लोगों की यह राय है। पर दुनिया में सबसे कम स्वीडन के केवल 51 फीसद लोग सार्वजनिक परिवहन में मास्क को आवश्यक मानते हैं। भारत में 85 फीसद लोग सफर के दौरान मास्क लगाना जरूरी समझते हैं।

अस्पताल

मैक्सिको, स्पेन और ब्राजील के 93 फीसद लोगों का कहना है कि अस्पतालों में मास्क को आवश्यक कर देना चाहिए। वहीं, दक्षिण अफ्रीका और फ्रांस के 92 फीसद लोगों की भी यही राय है। दुनिया में सबसे कम स्वीडन के 61 प्रतिशत लोग मेडिकल फैसेलिटी में मास्क को आवश्यक मानते हैं। वहीं भारत के 85 प्रतिशत लोग मेडिकल फेसेलिटी में भी मास्क को आवश्यक बताते हैं।

लोगों की राय शॉपिंग के दौरान भी फेस मास्क को लेकर ठीक अस्पताल और सार्वजनिक परिवहन जैसी ही है। ब्राजील और स्पेन के लोग 90 फीसद एप्रूवल रेटिंग के साथ सबसे आगे हैं। जबकि स्वीडन (35 फीसद) और डेनमार्क (45 फीसद) ने सबसे कम एप्रूवल रेटिंग दी है। भारत के 79 फीसद लोग खरीदारी के दौरान मास्क को जरूरी मानते हैं।

एयरपोर्ट

महामारी के दौरान हवाई यात्रा एक बड़ा मुद्दा रही है। ज्यादातर देशों में हवाई यात्रा रोक ही दी थी। ब्राजील और स्पेन के लोग सबसे ज्यादा 92 फीसद रेटिंग के साथ हवाईअड्डे पर मास्क को जरूरी मानते हैं। वहीं, स्वीडन के सबसे कम यानी 53 फीसद लोग ही इसे आवश्यक मानते हैं। भारत के 84 फीसद के मुताबिक बिना मास्क लगाए एयरपोर्ट नहीं जाना चाहिए।

गलियां

बाहर की जगहों में मास्क पहनने को लेकर दुनिया में लोगों की राय अलग है। इंडोनेशिया के 81 फीसद लोग कहते हैं कि गली में फेस मास्क जरूरी करना चाहिए। 79 फीसद की एप्रूववल रेटिंग के साथ दूसरे स्थान पर भारतीय हैं। वहीं स्वीडन के सिर्फ 10 फीसद लोगों ने इसे आवश्यक बताया है।

घर पर मास्क

भारत में सबसे ज्यादा 21 फीसद लोग घर पर मास्क को जरूरी मानते हैं। वहीं, सऊदी अरब और मिस्र के क्रमश: 18 और 16 फीसद लोग घर पर मास्क पहनना चाहते हैं। ब्रिटेन के 2 फीसद लोग घर पर मास्क पहनने की राय से सहमत हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here