देश में कोरोना की दूसरी लहर ने केंद्र सरकार की चिंता बढ़ा दी है। बीते कई दिनों से महाराष्ट्र पंजाब केरल मध्य प्रदेश गुजरात में मामलें तेजी से बढ़ रहे हैं। इसके चलते कई राज्यों ने एक बार फिर पाबंदियां लगानी शुरू कर दी है।

नई दिल्ली, एजेंसियां। देश में कोरोना वायरस (Coronavirus Lockdown) के मामले पिछले साल की तरह एक बार फिर तेजी से बढ़ रह है। इस बीच महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पंजाब, दिल्ली, गुजरात, कर्नाटक और हरियाणा में कोरोना के नए मामलों ने सरकारों की टेंशन बढ़ा दी है। गुजरात सरकार ने अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत और राजकोट में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew in Gujagat) को 31 मार्च तक बढ़ा दिया है। मध्य प्रदेश ने भी पड़ोसी राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए भोपाल और इंदौर शहर में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew in Bhopal and Indore) लागू किया है। वहीं, महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने पुणे, औरंगाबाद, नागपुर में पहले ही पाबंदियां लागू कर दी हैं। महाराष्‍ट्र और पंजाब के बाद गुजरात में भी बढ़ते मामलों के कारण स्‍कूलों में एक बार फिर ताला लगना शुरू हो गया है।

गुजरात में 31 मार्च तक नाइट कर्फ्यू

कोरोना के मामलों में उछाल को देखते हुए गुजरात सरकार ने मंगलवार को चार महानगरों- अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत और राजकोट में नाइट कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया। राज्य सरकार द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि इन चारों शहरों में 17 मार्च से 31 मार्च तक रात 10 बजे से सुबह 6 बजे के बीच कर्फ्यू रहेगा। हालांकि, गुजरात के इन शहरों में पहले से ही नाइट क‌र्फ्यू लगा हुआ था, लेकिन इसका समय रात 12 बजे से सुबह 6 बजे तक था। इसके अलावा अहमदाबाद के सभी उद्यानों और पार्कों को अगले आदेश तक बंद रखने का आदेश जारी किया गया है। इस दौरान कांकरिया झील और चिड़ियाघर भी बंद रहेंगे।

मध्य प्रदेश में होली पर नहीं होगा सामूहिक कार्यक्रम

कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने कई अहम फैसले किए हैं। भोपाल और इंदौर शहर में रात दस बजे से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। जबलपुर और ग्वालियर शहर में रात दस बजे से सभी दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। इसके साथ ही मध्य प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई है। भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, रतलाम, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, बैतूल और खरगोन जिले में होली उत्सव के दौरान कहीं कोई सामूहिक कार्यक्रम नहीं किए जाएंगे। मध्य प्रदेश के पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण की गंभीर स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने सोमवार को निर्देश जारी कर वहां से आने वाले लोगों को सात दिन तक क्वारंटाइन करने के निर्देश दिए थे।

महाराष्ट्र में स्कूलों को सख्त निर्देश

महाराष्ट्र में कोरोना से सबसे ज्यादा हालात खराब हैं। रोजाना बढ़ रहे संक्रमण के मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने लोगों से नियमों का सख्ती से पालन करने को कहा है। इसके मद्देनजर पुणे, औरंगाबाद, नागपर, अमरावती, परभणी समेत 10 जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। वहीं, बृहन्मुंबई नगर निगम ने स्कूलों को 17 मार्च से शिक्षकों और अन्य कर्मचारियों की उपस्थिती को 50 फीसद तक सीमित करने को कहा है। इशके साथ ही स्कूलों को वर्क फ्रॉम होम पैटर्न के तहत ई-लर्निंग और ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करने की सलाह दी है।

देश में आज 28 हजार से अधिक मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के 28 हजार से अदिक मामले सामने आए हैं। नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,14,38,734 हो गई है। इस दैरान हुई 188 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,59,044 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या अब 2,34,406 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,10,45,284 है। इस महीने 15 दिन में 3 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here