देश में अब तक दो कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड(Covishield) और कोवैक्सीन(Covaxin) को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी जा चुकी है। आज विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) देश में एक और कोरोना वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को मंजूरी देने पर चर्चा करेगी।

नई दिल्ली, एएनआइ। देश में एक और कोरोना वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिल सकती है। सरकार के एक अधिकारी के मुताबिक, आज विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) देश में रूसी वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल को मंजूरी देने को लेकर एक अहम बैठक करने जा रही है। अधिकारी के मुताबिक, रूस की स्पुतनिक वी कोरोना वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल को मंजूरी के लिए डॉ. रेड्डीज के आवेदन पर आज आयोजित होने वाली विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) की बैठक में चर्चा की जाएगी। इसके बाद वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर कोई बड़ा फैसला आ सकता है।

डॉ. रेड्डी लैब(dr reddy laboratory) ने ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) के पास रूस के स्पुतनिक वी वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल के लिए आवेदन भेजा था। उन्होंने 21 फरवरी को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) को ये आवेदन सौंपा था।

कोरोना के खिलाफ असरदार है रूसी वैक्सीन

रूसी वैक्सीन स्पुतनिक वी ने हाल ही में सफलतापूर्वक तीसरे चरण का ट्रायल पूरा किया है, जिसमें वैक्सीन 91.6 फीसद असरदार साबित हुई है। स्पुतनिक वी के तीसरे चरण के ट्रायल के अंतरिम विश्लेषण में वैक्सीन 91.6 फीसद तक असरदार दर्ज की गई है। तीसरे परीक्षण में रूस में 19,866 वॉलंटियर शामिल हुए थे। इनमें 60 साल से ज्यादा उम्र के 144 वॉलंटियर थे जिनमें 91.8 फीसद प्रभावकारिता दर्ज की गई थी।

भारत की बात करें तो देश में अब तक दो कोरोना वैक्सीन, कोविशील्ड(Covishield) और कोवैक्सीन(Covaxin) को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी जा चुकी है। दोनों वैक्सीनों को एक साथ 3 जनवरी, 2021 को आपातकाल में इस्तेमाल की मंजूरी दी गई थी। इसके बाद 16 जनवरी, 2021 से देश भर में टीकाकरण की शुरुआत की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here