4 जनवरी को हासन ने अन्नाद्रमुक और DMK पर परोक्ष रुप से निशाना साधते हुए कहा था कि आने वाले विधानसभा चुनावों में तमिलनाडु की जनता उन लोगों से निजात पाने के लिए बदलाव चाहती है जो अब तक भ्रष्टाचार में ‘लिप्त’ रहे हैं।

चेन्नई: मक्कल नीधि मईयम प्रमुख अभिनेता कमल हासन ने शुक्रवार को बताया कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग ने उनकी पार्टी मक्कल नीधि मय्यम को ‘टॉर्च’ चुनाव चिन्ह दिया है। ट्विटर पर एक वीडियो संदेश में उन्होंने कहा, ‘हमें तमिलनाडु में सभी 234 सीटों पर चुनाव चिन्ह टॉर्च मिला है।’ बता दें कि राज्य में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है और कमल हासन ने इसके लिए जोर लगाना शुरू कर दिया है। पार्टी ने 2019 का लोकसभा चुनाव भी ‘टॉर्च’ चुनाव चिन्ह पर लड़ा था और उसे कुल 3.77 प्रतिशत वोट मिले थे।

अन्नाद्रमुक और DMK पर साधा था निशाना

इससे पहले 4 जनवरी को हासन ने अन्नाद्रमुक और DMK पर परोक्ष रुप से निशाना साधते हुए कहा था कि आने वाले विधानसभा चुनावों में तमिलनाडु की जनता उन लोगों से निजात पाने के लिए बदलाव चाहती है जो अब तक भ्रष्टाचार में ‘लिप्त’ रहे हैं। हासन ने कहा था कि उन्हें और उनकी पार्टी को मिल रहा लोगों का प्यार इस बात का प्रमाण है और भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों की वजह से MNM के लिए लोगों का समर्थन बढ़ रहा है। उन्होंने कहा था कि तमिलनाडु में महिलाएं सुरक्षित महसूस नहीं करतीं, ऐसे में मतदाताओं को अप्रैल-मई में होने वाले चुनावों में मिलने वाले ऐतिहासिक अवसर का लाभ उठाकर एमएनएम को वोट देकर ऐसे हालात को बदलना चाहिए।

हासन ने दिया पर ‘नलई नमधेय’ का नारा
हासन ने अपने प्रचार के दौरान कई स्थानों पर ‘नलई नमधेय’ का नारा भी लगाया था जिसका अर्थ होता है ‘कल हमारा है’। बता दें कि यह नारा MGR (अन्नाद्रमुक के संस्थापक और दिवंगत मुख्यमंत्री एमजी रामचंद्रन) की एक फिल्म का नाम है। हासन ने पूरे प्रचार अभियान में एमजीआर की विरासत की बात की है और कथित भ्रष्टाचार को लेकर अन्नाद्रमुक तथा द्रमुक दोनों पर हमले कर रहे हैं। उन्होंने दोनों दलों का नाम नहीं लिया लेकिन कहा कि गरीबी का ‘बहुत सावधानी से बचाव’ किया गया है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here